- Advertisement -
HomeBusinessकच्चे तेल की कीमतों में बढ़ोतरी जारी पर अगले महीने से घटेंगे...

कच्चे तेल की कीमतों में बढ़ोतरी जारी पर अगले महीने से घटेंगे दाम, ओपेक देश बढ़ाएंगे उत्पादन : Shivpurinews.in

नई दिल्ली. नए साल में भी कच्चे तेल की कीमतों (Crude Price) में तेजी जारी है. पिछले सप्ताह ब्रेंट क्रूड (Brent Crude) की कीमतें 5 फीसदी से ज्यादा बढ़कर वापस करीब 82 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गईं। इसकी प्रमुख वजह आपूर्ति संबंधी दिक्कतें हैं. हालांकि, राहत की बात यह है कि ओपेक (OPEC) और इससे जुड़े देश फरवरी यानी अगले महीने से कच्चे तेल का उत्पादन बढ़ाने पर सहमत हो गए हैं. इससे कीमतों के मोर्चे पर राहत मिलने की उम्द है.

आंकड़ों के मुताबिक, आलोच्य सप्ताह के दौरान ब्रेंट क्रूड 77.78 डॉलर प्रति बैरल से बढ़कर 81.75 प्रति बैरल पहुंच गया. यह इससे पिछले सप्ताह के मुकाबले 5.1 फीसदी ज्यादा है. एक महीने पहले 75.8 डॉलर प्रति बैरल पर थीं. इससे पहले 26 अक्टूबर, 2021 को ब्रेंट क्रूड 86.4 डॉलर प्रति बैरल के स्तर पर था, जो इसका एक साल का सबसे ऊंचा स्तर है. अक्टूबर से अब तक कच्चे तेल में काफी उतार-चढ़ाव देखने को मिला है. कोरोना के नए स्वरूप ओमिक्रॉन को लेकर बढ़ती आशंकाओं के बाद दिसंबर की शुरुआत में कीमतें 70 डॉलर प्रति बैरल से नीचे पहुंच गई थीं.

ये भी पढ़ें- 31 मार्च तक ITR नहीं भरा तो जुर्माने के साथ हो सकती है इतने साल की सजा, जानें पूरा प्रॉसेस

इन वजहों से कीमतों में इजाफा
आपूर्ति पर असर पड़ने की वजह से कीमतों में उछाल देखने को मिल रहा है. कजाकिस्तान में जारी अशांति से तेल आपूर्ति प्रभावित होने की आशंका बन गई है. कजाकिस्तान तेल उत्पादक देशों के समूह ओपेक और इससे जुड़े देशों का सदस्य है. इसके अलावा, लीबिया में तेल उत्पादन करीब 7 लाख बैरल प्रति दिन तक नीचे गिरा है. इसका असर फ्यूचर मार्केट में कीमतों में तेजी के रूप दिख रहा है.

ये भी पढ़ें- -Credit Score खराब होने पर इंश्योरेंस खरीदने में होगी दिक्कत, नहीं खोल सकेंगे डी-मैट खाता

जल्द राहत मिलने की उम्मीद
दरअसल, सऊदी अरब और गैर-ओपेक सदस्य देश रूस की अगुवाई में 23 सदस्यीय ओपेक प्लस गठबंधन ने हाल ही में फरवरी से प्रति दिन 4,00,000 बैरल अधिक उत्पादन करने की घोषणा की है. यह घोषणा महामारी के दौरान की गई तेज कटौती को धीरे-धीरे बहाल करने की योजना के अनुरूप है. विशेषज्ञों का मानना है कि ओमिक्रॉन की खबर आने के बाद नवंबर अंत में कच्चे तेल में तेज गिरावट रही थी. हालांकि, अब कीमतों में सुधार हो रहा है. कीमतों के मोर्चे पर सुधार के बाद ही इन देशों ने तेल उत्पादन बढ़ाने का फैसला लिया है.

फिर भी जारी रहेगी कच्चे तेल में तेजी
मॉर्गन स्टेनली का अनुमान है कि नए साल में भी कच्चे तेल की कीमतों में तेजी जारी रहेगी. इस साल ब्रेंट क्रूड 90 डॉलर प्रति बैरल के पार पहुंच सकता है. मार्गन स्टेनली के मुताबिक, कच्चे तेल की मांग में लगातार तेजी दिख रही है. लेकिन, मांग के अनुरूप उत्पादन बढ़ने के संकेत नहीं हैं. ऐसे में कच्चे तेल में आगे भी बढ़ोतरी जारी रह सकती है.

Tags: Crude oil, Market, OPEC, Petrol diesel price

Source link

Stay Connected
4,900FansLike
10,500FollowersFollow
1,500FollowersFollow
13,500FollowersFollow
Must Read
Related News