- Advertisement -
HomeBusinessटाटा ग्रुप का यह शेयर दो दिन पहले तक दे रहा था...

टाटा ग्रुप का यह शेयर दो दिन पहले तक दे रहा था छप्पड़फाड़ रिटर्न, आज नहीं मिल रहे खरीदार, जानें क्या है वजह : Shivpurinews.in

दो दिन पहले टाटा ग्रुप की सब्सिडियरी कंपनी टीटीएमएल के शेयर से निवेशक मालामाल हो रहे थे। लगातार कई दिनों तक अपर सर्किट के कारण यह उड़ान भर रहा था। खरीदने वालों की कतार लगी थी, लेकिन शेयर मिल नहीं रहे थे। आज हालत है कि इसका कोई खरीदार नहीं है।

लगातार दूसरे दिन इसमें 5 फीसद का लोअर सर्किट लगा है। आज एनएसई पर 1 करोड़ 84 लाख 34 हजार 228 शेयर इसे 261.90 रुपये से 262.10 रुपये के रेंज में बिकने के लिए तैयार हैं, पर कोई खरीदार नहीं है। बता दें सोमवार को टीटीएमएल का शेयर अपने ऑल टाइम हाई 290.15 रुपये पर बंद हुआ था। इससे पहले यह एक साल में 2830 फीसद का छप्पड़ फाड़ रिटर्न दे चुका था।

पिछले 23 दिसंबर से तो यह लगभग हर रोज अपर सर्किट मार रहा था। 23 दिसंबर को यह 154.10 रुपये पर बंद हुआ था और दो दिन पहले यानी 10 जनवरी को यह 290.15 रुपये पर पहुंच गया। इस दौरान इसने निवेशकों को 188 फीसद रिटर्न दिया। अब पिछले दो दिनों में यह 28.25 रुपये प्रति शेयर टूट चुका है।

क्यों आ रही गिरावट?

दरअसल टाटा टेलीसर्विसेज (महाराष्ट्र) ने मंगलवार को कहा कि वह समायोजित सकल राजस्व (एजीआर) बकाया से संबंधित ब्याज को इक्विटी में बदलेगी। इससे सरकार की कंपनी में हिस्सेदारी करीब 9.5 प्रतिशत हो सकती है। टाटा टेलीसर्विसेज ने शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि उसके आकलन के अनुसार ब्याज का शुद्ध रूप से मौजूदा मूल्य (एनपीवी) करीब 850 करोड़ रुपये है। यह अनुमान दूरसंचार विभाग की पुष्टि पर निर्भर है। ब्याज को इक्विटी यानी शेयर में बदलने से सरकार की कंपनी में हिस्सेदारी 9.5 प्रतिशत होगी। इसके बाद से ही उड़ान भर रहे इस स्टॉक में अब बिकवाली का दौर शुरू हो गया है।

ttml

क्या करती है टीटीएमएल?

बता दें टीटीएमएल, टाटा टेलीसर्विसेज की सब्सिडियरी कंपनी है। यह कंपनी अपने सेगमेंट में मार्केट लीडर है। कंपनी वॉइस, डेटा सर्विसेज देती है। कंपनी के ग्राहकों की लिस्ट में कई बड़े नाम है। मार्केट एक्सपर्ट्स के मुताबिक बीते महीने कंपनी ने स्मार्ट इंटरनेट बेस्ड सर्विस कंपनियों के लिए शुरू की है। इसे जबरदस्त रिस्पॉन्स मिल रहा है, क्योंकि इसमें कंपनियों को फास्ट इंटरनेट के साथ क्लाउड बेस्ड सिक्योरिटी सर्विसेज और ऑप्टोमाइज्ड कंट्रोल मिल रहा है। इसकी सबसे बड़ी खासियत क्लाउड आधारित सिक्योरिटी है जिससे डेटा को सुरक्षित रखा जा सकेगा। जो बिजनेस डिजिटल आधार पर चल रहे हैं, उन्हें इस लीज लाइन से बहुत मदद मिलेगी। इसमें हर तरह के साइबर फ्रॉड से सुरक्षा का इंतजाम इन-बिल्ट किया गया है, साथ में फास्ट इंटरनेट की सुविधा दी जा रही है।

(डिस्‍क्‍लेमर: यहां सिर्फ शेयर के परफॉर्मेंस की जानकारी दी गई है. यह निवेश की सलाह नहीं है। शेयर बाजार में निवेश जोखिमों के अधीन है और निवेश से पहले अपने एडवाइजर से परामर्श कर लें।)

Source link

Stay Connected
4,900FansLike
10,500FollowersFollow
1,500FollowersFollow
13,500FollowersFollow
Must Read
Related News