- Advertisement -
HomeHoroscope16 जनवरी को धनु राशि में मंगल करेंगे गोचर, इस राशि के...

16 जनवरी को धनु राशि में मंगल करेंगे गोचर, इस राशि के जातकों की लव लाइफ में आएगा बड़ा बदलाव : Shivpurinews.in

16 जनवरी को मंगल धनु राशि में गोचर करेगा। मंगल इस राशि में 26 फरवरी तक रहेंगे। इस राशि में मंगल और शुक्र एक साथ युति करेंगे। वैदिक ज्योतिष में मंगल की युति और शुक्र का विशेष महत्व है। मंगल को कार्रवाई करने की क्षमता, क्रोध व्यक्त करने, प्रेरणा और गतिशीलता का कारक माना जाता है। मंगल हमारे काम करने की क्षमता और प्रदर्शन करने की क्षमता को व्यक्त करता है। 

वैदिक ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, हमें अपने जीवन के सभी क्षेत्रों में सफल होने के लिए एक मजबूत मंगल की आवश्यकता है, इसलिए इसका जन्म कुंडली में उच्च स्थान पर होना महत्वपूर्ण होता है। वहीं दूसरी ओर शुक्र प्रेम, संबंध और विवाह का प्रतिनिधित्व करता है। यह सुंदरता, कला का भी प्रतिनिधित्व करता है। शुक्र के आशीर्वाद के बिना हम सुखद जीवन का आनंद नहीं ले सकते हैं। जानिए धनु राशि वालों की लव लाइफ पर क्या पड़ेगा प्रभाव-

6 मार्च तक बुधदेव की कृपा से इन राशि वालों को मिलेगा मेहनत का पूरा फल, मान-सम्मान में भी होगी वृद्धि

मंगल और शुक्र के बीच उदासीन संबंध है। मंगल जोश का प्रतीक है और शुक्र ग्रह प्यार का। इन दोनों ग्रहों की युति निश्चित रूप से हमारे जीवन में जोश भर देती है। जब दोनों ग्रह अच्छी स्थिति में तो यह एक वफादार, प्रतिबद्ध और भावुक प्रेमी बनाता है। इस दौरान जातक उनकी रचनात्मक गतिविधियों पर या उनके वांछित शानदार जीवन को प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत करता है।

हालांकि मंगल और शुक्र की यह युति तभी अनुकूल परिणाम देती है जब वे कुंडली में अच्छी स्थिति में होते हैं। 16 जनवरी को जब मंगल धनु राशि में प्रवेश करेगा, तो वह शुभ स्थिति में स्थित होगा। हालांकि, शुक्र की स्थिति अनुकूल नहीं रहेगी। धनु राशि का स्वामी देवगुरु बृहस्पति हैं, जो कि शुक्र के शत्रु हैं, इसलिए शुक्र यहां हमेशा जीवन के सकारात्मक पहलुओं को बढ़ावा नहीं देता है। शुक्र 29 जनवरी तक वक्री गति में हैं, जो प्रेम ग्रह के लिए अनुकूल स्थिति नहीं है।

ऐसे में मंगल-शुक्र की यह युति नकारात्मक के रूप में विपरीत दिशा में भी काम कर सकती है। इस युति के परिणाम भी सामने आएंगे। मंगल के प्रभाव के कारण क्रोध और आक्रामकता बढ़ सकती है और शुक्र के कारण सुख-सुविधाओं की लालसा बढ़ सकती है। इससे रिश्तों में उतार-चढ़ाव आ सकता है।

मकर संक्रांति के दिन इन तारीखों में जन्मे लोगों को होगा अचानक धन लाभ, मिलेगा परिवार का सहयोग

ग्रहों का यह अनोखा संयोग विवाहित जातकों के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकता है। यह आपके पार्टनर को बेहद पोजेसिव बना सकता है और कुछ मामलों में जहां मंगल और शुक्र आपके जन्म में बुरी तरह से स्थित हैं, उनमें शारीरिक आक्रामकता बढ़ सकती है।

 इस संयोग के कारण रिश्ते में जुड़ जाता है वह भोग-विलासिता की इच्छाएं हैं। इस दौरान लोग पैसे या सुख-सुविधाओं के लालच में हमसे जुड़ जाते हैं। कुछ में मामलों में, मंगल-शुक्र की युति भी बेईमान संबंधों को बढ़ावा देती है क्योंकि यह शारीरिक जुनून को बढ़ाता है। ग्रहों की यह स्थिति विपरीत लिंग की ओर और बाहर के संबंधों को जन्म दे सकती है।

14 जनवरी को मना रहे मकर संक्रांति, तो यहां से नोट कर लें शुभ मुहूर्त व पूजा विधि

कुल मिलाकर मंगल और शुक्र प्रभाव के कारण धनु राशि के लोग यात्रा करना पसंद करेंगे और रोमांच से जुड़ी चीजों का पता लगाएं। आध्यात्मिक जीवन के प्रति रुचि और जुनून बढ़ सकता है। जबकि धनु राशि में गोचर करते हुए मंगल उच्च समर्पण और अपार शक्ति प्रदान करेगा। हालांकि, एक जीवन में सामंजस्य बनाए रखने के लिए अपने क्रोध, आक्रामकता और आवेग को नियंत्रित करने की आवश्यकता है।

Source link

Stay Connected
4,900FansLike
10,500FollowersFollow
1,500FollowersFollow
13,500FollowersFollow
Must Read
Related News