- Advertisement -
HomeWorld Newsक्या किसी को दो बार हो सकता है ओमिक्रॉन का संक्रमण? विशेषज्ञों...

क्या किसी को दो बार हो सकता है ओमिक्रॉन का संक्रमण? विशेषज्ञों से जानिए क्या है हकीकत : Shivpurinews.in

क्या कोविड-19 (SARS-CoV-2) का नया और सबसे तेजी से फैलने वाला वैरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) एक ही व्यक्ति को दो बार संक्रमित कर सकता है? दरअसल इस समय पूरी दुनिया में कोरोना के रिकॉर्ड मामले दर्ज किए जा रहे हैं। इन मामलों के पीछे कोरोना का ओमिक्रॉन वैरिएंट सबसे बड़ा कारण बताया जा रहा है। ऐसे में ये जानना जरूरी हो जाता है कि क्या एक व्यक्ति ओमिक्रॉन से दो बार संक्रमित हो सकता है। तो इसका जवाब है हां, हो सकता है। विशेषज्ञों का कहना है कि एक व्यक्ति दो बार ओमिक्रॉन से संक्रमित हो सकता है, हालांकि ये ज्यादा खतरनाक नहीं होगा। विशेषज्ञों ने कहा कि दुनिया दो साल पुरानी महामारी की एक नई लहर से जूझ रही है जिसमें ओमिक्रॉन सबसे प्रमुख वैरिएंट है।

क्यों हो सकता है दोबारा ओमिक्रॉन?

अमेरिकी महामारी विज्ञानी एरिक फीगल-डिंग ने कहा कि ओमिक्रॉन का दोबारा संक्रमण निश्चित रूप से संभव है यदि पहला ओमिक्रॉन संक्रमण ‘कम क्षमता’ का था जो प्रतिरक्षा प्रणाली (इम्यून सिस्टम) को पर्याप्त रूप से मजबूत नहीं कर पाया था। इसके अलावा Omicron के दोबारा होने की एक वजह आपका बेहद कमजोर इम्यून सिस्टम भी हो सकता है। महामारी विज्ञानी ने ट्वीट कर कहा, “हाल ही में एक बार ओमिक्रॉन संक्रमण से उबर चुके लोगों को दोबारा ओमिक्रॉन होने के बारे में कई बातें पूछी जा रही हैं। यह निश्चित रूप से संभव है यदि आपका पहला ओमिक्रॉन संक्रमण कम क्षमता वाला था जो आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को पर्याप्त रूप से मजबूत नहीं कर पाया था या आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर है। लोगों सावधान रहिए।” 

कई लोगों को दो बार हो चुका है कोरोना संक्रमण

दुनिया कोविड के दोबारा होने के बारे में पहले से परिचित है क्योंकि महामारी की बाद की लहरों में यह पाया गया था कि जो लोग एक बार संक्रमित हो गए हैं, वे भी पुन: संक्रमण के जोखिम में हैं। यह भी कोई नई बात नहीं है कि कोविड के खिलाफ टीका लगाने वाले लोग भी फिर से संक्रमण का शिकार हो रहे हैं क्योंकि टीके रोग-निवारक नहीं हैं, बल्कि गंभीरता और मृत्यु दर से सुरक्षा प्रदान करते हैं। ऐसे में ओमिक्रॉन का दोबारा होना एक अपेक्षाकृत नया सवाल है क्योंकि Omicron वर्तमान लहर में सक्रिय रूप है। अगर लोग ओमिक्रॉन से दोबारा संक्रमित हो रहे हैं, तो इसका मतलब है कि उन्हें बहुत कम समय में संक्रमण हो रहा है। एक संक्रमण के बाद शरीर विकसित होने वाली प्राकृतिक प्रतिरक्षा कम से कम सात से नौ महीने तक चलनी चाहिए।  

जो लोग पहले कोविड के पुराने वैरिएंट से संक्रमित हो चुके हैं, उन्हें निश्चित रूप से ओमिक्रॉन हो सकता है। लोग दो बार ओमिक्रॉन से संक्रमित भी हो सकते हैं। रटगर्स स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ में रटगर्स न्यू जर्सी मेडिकल स्कूल और महामारी विज्ञान विभाग के प्रोफेसर स्टेनली वीस ने कहा, “ओमिक्रॉन अत्यधिक संक्रामक है और ऐसा प्रतीत होता है कि यह आपकी सुरक्षात्मक प्रतिरक्षा को ज्यादा प्रभावित नहीं करता है।”
 

//platform.twitter.com/widgets.js

Source link

Stay Connected
4,900FansLike
10,500FollowersFollow
1,500FollowersFollow
13,500FollowersFollow
Must Read
Related News