Wednesday, December 1, 2021
HomeNation Newsमुक्तसर: किसान ने बेटी को गोली मार की आत्महत्या, पत्नी और मां...

मुक्तसर: किसान ने बेटी को गोली मार की आत्महत्या, पत्नी और मां की कोरोना से मौत के बाद से था परेशान : Shivpurinews.in

- Advertisement -

संवाद न्यूज एजेंसी, मुक्तसर (पंजाब)
Published by: निवेदिता वर्मा
Updated Fri, 19 Nov 2021 04:21 PM IST

सार

किसान जगविंदरपाल सिंह के पास 18 एकड़ जमीन थी। पहले किसान की पत्नी व मां की कोरोना से मौत और अब बेटी के बाद खुद को गोली मारने से दोनों बाप-बेटी की मौत होने से परिवार में कोई नहीं बचा।  

जगविंदर पाल और विश्वदीप कौर
– फोटो : फाइल

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

कोरोना से पत्नी की मौत के बाद से परेशान चल रहे लंबी हलके के गांव माहूआणा के किसान ने शुक्रवार को पहले अपनी बेटी और फिर अपने सिर पर गोली मार ली। दोनों की मौत हो गई है। जानकारी के अनुसार माहूआणा गांव के निवासी जगविंदरपाल सिंह (50) पुत्र अमरजीत सिंह की पत्नी रवनीत कौर और मां कुलदीप कौर की मई में कोरोना से मौत हो गई थी। इसके बाद से ही किसान जगविंदरपाल काफी परेशान रह रहा था वहीं उसकी बेटी विश्वदीप कौर (25) भी सदमे में थी। जगविंदर की पत्नी व मां के निधन के बाद से ही परिवार में दोनों बाप-बेटी ही थे। 

बताते हैं कि इन दिनों जगविंदर का भांजा गांव चन्नू का निवासी अनमोल भी उनके यहां आया हुआ था और घटना के समय वह कहीं बाहर था। इसी दौरान पीछे से जगविंदर ने पहले अपनी बेटी विश्वदीप के सिर पर गोली मारी और फिर अपने सिर पर गोली मार दी। गोलियां चलने की आवाज सुन अनमोल व अन्य वहां पहुंचे तो दोनों घायल पड़े थे। दोनों को पहले मलोट के अस्पताल लाया गया। जहां से उन्हें गंभीर हालत के चलते बठिंडा रेफर कर दिया गया। बठिंडा में जगविंदर ने दम तोड़ दिया। जबकि विश्वदीप को लुधियाना रेफर कर दिया गया। उसने भी डीएमसी में दम तोड़ दिया। 

थाना लंबी के एसएचओ अमनदीप सिंह ने बताया कि पुलिस ने इस मामले में धारा 174 के तहत कार्रवाई की है। गौरतलब है कि किसान के पास 18 एकड़ जमीन थी। पहले किसान की पत्नी व मां की कोरोना से मौत और अब बेटी के बाद खुद को गोली मारने से दोनों बाप-बेटी की मौत होने से परिवार में कोई नहीं बचा।  

विस्तार

कोरोना से पत्नी की मौत के बाद से परेशान चल रहे लंबी हलके के गांव माहूआणा के किसान ने शुक्रवार को पहले अपनी बेटी और फिर अपने सिर पर गोली मार ली। दोनों की मौत हो गई है। जानकारी के अनुसार माहूआणा गांव के निवासी जगविंदरपाल सिंह (50) पुत्र अमरजीत सिंह की पत्नी रवनीत कौर और मां कुलदीप कौर की मई में कोरोना से मौत हो गई थी। इसके बाद से ही किसान जगविंदरपाल काफी परेशान रह रहा था वहीं उसकी बेटी विश्वदीप कौर (25) भी सदमे में थी। जगविंदर की पत्नी व मां के निधन के बाद से ही परिवार में दोनों बाप-बेटी ही थे। 

बताते हैं कि इन दिनों जगविंदर का भांजा गांव चन्नू का निवासी अनमोल भी उनके यहां आया हुआ था और घटना के समय वह कहीं बाहर था। इसी दौरान पीछे से जगविंदर ने पहले अपनी बेटी विश्वदीप के सिर पर गोली मारी और फिर अपने सिर पर गोली मार दी। गोलियां चलने की आवाज सुन अनमोल व अन्य वहां पहुंचे तो दोनों घायल पड़े थे। दोनों को पहले मलोट के अस्पताल लाया गया। जहां से उन्हें गंभीर हालत के चलते बठिंडा रेफर कर दिया गया। बठिंडा में जगविंदर ने दम तोड़ दिया। जबकि विश्वदीप को लुधियाना रेफर कर दिया गया। उसने भी डीएमसी में दम तोड़ दिया। 

थाना लंबी के एसएचओ अमनदीप सिंह ने बताया कि पुलिस ने इस मामले में धारा 174 के तहत कार्रवाई की है। गौरतलब है कि किसान के पास 18 एकड़ जमीन थी। पहले किसान की पत्नी व मां की कोरोना से मौत और अब बेटी के बाद खुद को गोली मारने से दोनों बाप-बेटी की मौत होने से परिवार में कोई नहीं बचा।  

Source link

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular