Nation News

Asaduddin Owaisi ने UP चुनाव के लिए मांगे आवेदन, करना होगा ‘वफादारी एग्रीमेंट’; इतने रुपये है फीस

Asaduddin Owaisi ने UP चुनाव के लिए मांगे आवेदन, करना होगा ‘वफादारी एग्रीमेंट’; इतने रुपये है फीस

लखनऊ: असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) उत्तर प्रदेश में 2022 का विधान सभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) लड़ने की तैयारी में जुट गई है. ओवैकसी की पार्टी यूपी चुनाव के लिए उम्मीदवार तलाश रही है. AIMIM ने इच्छुक उम्मीदवारों से आवेदन मांगना शुरू कर दिया है.

‘वफादारी एग्रीमेंट’ करना होगा

असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) की पार्टी AIMIM ने यूपी विधान सभा चुनाव के लिए टिकट मांगने वालों के लिए एक फॉर्टेट तैयार किया है, इसी फॉर्मेट में इच्छुक उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं. इसमें एक लॉयल्टी एग्रीमेंट भी शामिल होगा. ‘वफादारी अनुबंध’ में कहा गया है कि टिकट ना मिलने की स्थिति में भी आवेदक पार्टी के लिए ईमानदारी से काम करते हुए चुनाव में पार्टी के लिए प्रचार करेगा. 

 

 

इतने रुपये है आवेदन की फीस

असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी में टिकट के लिए आवेदन मुफ्त में नहीं होगा. आवेदकों को फॉर्म के साथ 10,000 रुपये का आवेदन शुल्क भी देना होगा. एआईएमआईएम के प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली ने कहा, ‘हमने उत्तर प्रदेश में 100 मुस्लिम बहुल सीटों पर चुनाव लड़ने का मन बना लिया है और समान विचारधारा वाले दलों के साथ संभावित गठबंधन को लेकर भी चर्चा हुई है. हालांकि इस पर कोई अंतिम फैसला नहीं लिया गया है. फिर भी हमारे लिए सपा और बसपा दोनों के दरवाजे खुले हैं.’

यह भी पढ़ें: केशव मौर्य ने बताया क्यों आए थे CM योगी, 5KD में लिखी गई पूरी ‘स्क्रिप्‍ट’?

जल्द यूपी का दौरा करेंगे

उन्होंने कहा कि टिकट वितरण पर अंतिम फैसला एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी करेंगे, जिसके लिए वह जल्द ही राज्य का दौरा करेंगे. यूपी में हाल ही में हुए पंचायत चुनावों में एआईएमआईएम ने अखिलेश यादव के निर्वाचन क्षेत्र आजमगढ़ और उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के गृहनगर प्रयागराज में अच्छा प्रदर्शन किया है. इस बीच 2015 में, एआईएमआईएम ने जिला पंचायत चुनावों में चार सीटें जीती थीं. 

यह भी पढ़ें: Sex के बाद पार्टनर को मादा खा जाती हैं ये मादा, क्‍या है वजह?

2017 में रहे जीरो पर

यूपी पंचायत चुनाव में एआईएमआईएम का ग्राफ चढ़ने से पार्टी कार्यकतार्ओं का मनोबल बढ़ा है. इससे पहले 2017 में एआईएमआईएम ने विधान सभा चुनाव में 38 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे लेकिन एक भी सीट नहीं जीत पाई थी. पार्टी को पूरे उत्तर प्रदेश में 2,05,232 वोट मिले, जो कुल वोटों का केवल 0.2 प्रतिशत था.

LIVE TV

Source link

Related posts

Sooner than Faculty Admission Scholars Must Signal Bond In opposition to Dowry, Suggests Kerala Governor

admin

EXPLAINED: Part Of Mumbai’s Youngsters Might Have Had Covid. Here is What Else Sero Surveys Can Inform Us

admin

India coach Ravi Shastri tests COVID-19 positive, support staff isolate | Cricket News – Times of India

admin

Leave a Comment

%d bloggers like this:
189728755