महाकाल के दर पर सांसद ने पड़े श्रद्धालु के पैर, बोले-कहीं आपके कारण फिर न हो जाए Lockdown

उज्जैन. महाकाल मंदिर (Mahakal Temple) में श्रद्धालु पूरे देश दुनिया से दर्शन के लिए पहुंच चुके थे. दर्शन के लिए शर्त यही थी कि कोरोना गाइड लाइन (Corona Guideline) का पालन करें. निगेटिव टेस्ट रिपोर्ट और वैक्सीनेशन का सर्टिफिकेट दिखाएं. मास्क के लिए जागरुकता फैला रहे सांसद अनिल फिरोजिया भी इन भक्तों के बीच पहुंचे. लोगों से मास्क लगाने की अपील की. कुछ के हाथ जोड़े और जो फिर भी नहीं मानें तो उनके पैर पड़ लिए.

महाकाल मंदिर आज से भक्तों के लिए खोल दिया गया. पहले ही दिन भक्तों का सैलाब मंदिर में पहुंच गया. लेकिन कई श्रद्धालु कोविड गाइड लाइन और महाकाल मंदिर समिति के नियमों को ताक पर रखकर मंदिर में प्रवेश कर गए और कुछ लोग मंदिर के बाहर भी बिना मास्क के दिखाई दिए. उज्जैन आलोट सीट से बीजेपी के सांसद अनिल फिरोजिया ने तुरंत मास्क मंगवा कर श्रद्धालु और आम लोगों में बाटना शुरू कर दिए. लगातार कहे जाने के बाद भी कई लोग मास्क नहीं लगा रहे थे तो उन्होंने लोगों से हाथ जोड़कर मास्क लगाने की अपील की. कुछ उसके बाद भी नहीं मानें तो सांसद ने ऐसे श्रद्धालुओं के पैर पड़ लिए. ये नजारा देख सब हक्के बक्के रह गए

आप जैसे लोगों के कारण फिर न लग जाए लॉकडाउन

उज्जैन सांसद अनिल फिरोजिया दूसरी लहर के समय से ही ना सिर्फ कोविड अस्पतालों में बल्कि कई अलग अलग जगहों पर जाकर लोगों को जागरुक करते रहे हैं. आज जैसे ही महाकाल मंदिर खुला वैसे ही अनिल फिरोजिया अपने समर्थकों के साथ मंदिर की व्यवस्था देखने और बाबा के दर्शन के लिए मंदिर पहुंचे. इस दौरान उन्हें कई लोग बिना मास्क के दिखाई दिए. उन्होंने पहले तो कई लोगों को टोका लेकिन जब देखा कि बड़ी संख्या में लोगों के मास्क ही नहीं है तो सांसद ने मास्क मंगवाकर बांटना शुरू कर दिया. उन्होंने मास्क लगवाने के लिए कई लोगों के हाथ जोड़े. जब एक आदमी अपनी गाडी से आता हुआ दिखाई दिया तो उन्होंने उस आदमी के पैर ही पड़ लिए और कहा अगर अब भी नहीं मानें तो आप जैसे लोगों के कारण ही फिर से लॉकडाउन लग जाएगा.

वैक्सीन और मास्क ही कारगर

सांसद ने कहा लगातार पीएम मोदी जी और प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह मास्क की अनिवार्यता बता रहे हैं. इसके बावजूद लोग समझ नहीं रहे हैं अभी हमने दूसरी लहर के दौरान कई लोगों को खोया है और अब वैक्सीन और मास्क ही सबसे ज्यादा जरूरी है जिससे कोरोना से बचा जा सकता है.

आज से शुरू हुए दर्शन
कोरोना की दूसरी लहर के कारण महाकाल मंदिर के पट फिर से 76 दिन तक बंद रहे. सोमवार से फिर से दर्शन शुरू हुए हैं. एक दिन में साढ़े तीन हजार लोग दर्शन कर सकेंगे. दिन भर में 7 जत्थों में लोग जा सकेंगे. एक जत्थे में 500 श्रद्धालु होंगे.

Source link

I am only use feed rss url of the following postowner. i am not writter,owner, of the following content or post all credit goes to Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *