PAK दिग्गज यूनुस खान ने कोच की गर्दन पर रख दिया चाकू, साथियों को बचानी पड़ी जान

नई दिल्ली: पाकिस्तान के पूर्व बैटिंग कोच ग्रांट फ्लावर के साथ 5 साल पहले ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर एक भयानक घटना हुई. ग्रांट फ्लावर के मुताबिक साल 2016 में पाकिस्तान (Pakistan) की टीम जब ऑस्ट्रेलिया दौरे पर तीन मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए गई थी तो यूनुस खान (Younis Khan) ने उनकी गर्दन पर चाकू रख दिया था.

यूनुस खान ने कोच की गर्दन पर रख दिया चाकू

पाकिस्तान के पूर्व बल्लेबाजी कोच ग्रांट फ्लावर ने कहा कि एक बार जब उन्होंने यूनुस खान को कुछ सलाह देने की कोशिश की तो उन्होंने उनकी गर्दन पर चाकू रख दिया था. बता दें कि साल 2016 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ब्रिस्बेन में खेले गए पहले ही टेस्ट मैच में यूनुस खान पहली पारी में शून्य पर आउट हो गए थे.  

करना पड़ा बीच-बचाव

ग्रांट फ्लावर ने ‘फोलोइंग ऑन क्रिकेट’ पॉडकास्ट में कहा कि ब्रिस्बेन टेस्ट मैच के दौरान सुबह के नाश्ते पर मैंने यूनुस खान को कुछ सलाह देने की कोशिश की, लेकिन उन्हें मेरी सलाह अच्छी नहीं लगी और यूनुस ने मेरी गर्दन पर चाकू रख दिया. इसके बाद तब के हेड कोच मिकी आर्थर को बीच-बचाव करना पड़ा. 

इस भयानक घटना के कई गवाह बने 

जिम्बाब्वे के फ्लावर से तब पूछा गया कि उनके कोचिंग करियर के दौरान उन्हें किन मुश्किल खिलाड़ियों से सामना करना पड़ा, तो 50 साल के कोच ने यूनुस से जुड़ी घटना याद की. ग्रांट फ्लावर 2014 से 2019 तक पाकिस्तान के बल्लेबाजी कोच रहे थे. फ्लावर इस समय श्रीलंका के बल्लेबाजी कोच हैं. उन्होंने ‘फॉलोइंग ऑन क्रिकेट पॉडकास्ट’ पर अपने भाई एंडी और मेजबान नील मैंथोर्प के साथ बातचीत में कहा था, ‘यूनुस खान…उन्हें सिखाना काफी कठिन है.’  

यूनुस ने क्यों रखा चाकू?

फ्लावर ने कहा, ‘मुझे ब्रिस्बेन की एक घटना याद है, टेस्ट मैच के दौरान सुबह के नाश्ते पर मैंने उसे कुछ बल्लेबाजी सलाह देने की कोशिश की…लेकिन उसे मेरी  सलाह अच्छी नही लगी और वह चाकू मेरी गर्दन तक ले आया, मिकी आर्थर साथ ही बैठे थे, जिन्हें बीच में हस्तक्षेप करना पड़ा.’  

यूनुस ने पाकिस्तान के लिए 10 हजार से ज्यादा रन बनाए

यूनिस ने पाकिस्तान के लिए 118 टेस्ट में 52.05 की औसत से 10,099 रन बनाए हैं. फ्लावर ने कहा, ‘हां, यह दिलचस्प रहा. लेकिन यह कोचिंग का हिस्सा है. इससे यह यात्रा काफी मुश्किल हो जाती है और मैंने इसका सचमुच लुत्फ उठाया है. मुझे अभी काफी कुछ चीजें सीखनी हैं. लेकिन में काफी भाग्यशाली हूं कि मैं इस मुकाम तक पहुंचा हूं.’ 

शून्य पर आउट हो गए थे यूनुस 

यह घटना 2016 में ब्रिस्बेन में पाकिस्तान के ऑस्ट्रेलिया दौरे के शुरुआती टेस्ट के दौरान हुई थी, जिसमें यूनुस पहली पारी में शून्य पर आउट हो गए थे और फिर दूसरी पारी में 65 रन बनाने में सफल रहे थे. उन्होंने इस दौरे का अंत तीसरे टेस्ट में 175 रनों की नाबाद पारी के साथ किया था. पाकिस्तान हालांकि इस तीन टेस्ट मैचों की सीरीज को 0-3 से गंवा बैठा था. फ्लावर ने पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज अहमद शहजाद को भी दिलचस्प किरदार बताया. उन्होंने कहा, ‘वह काफी कुशल बल्लेबाज हैं, लेकिन काफी बगावती हैं. हर टीम में कोई विद्रोह करने वाला होता है. कभी कभार यह चीज उन्हें अच्छा खिलाड़ी बना देती है, कभी कभार ऐसा नहीं होता.’ 

Source link

I am only use feed rss url of the following postowner. i am not writter,owner, of the following content or post all credit goes to Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *