इंदौर: सलीम और महजबीन लिव इन में रहकर रचते थे साजिश, कोविड पास बनवाकर करते थे ड्रग्स की सप्लाई

इंदौर: सलीम और महजबीन लिव इन में रहकर रचते थे साजिश, कोविड पास बनवाकर करते थे ड्रग्स की सप्लाई

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, इंदौर
Published by: संजीव कुमार झा
Updated Wed, 07 Jul 2021 08:54 PM IST

सार

आरोपियों में एक महिला भी शामिल है, जो कि इस मामले की मास्टरमाइंड है। वहीं गिरफ्तार चारों आरोपियों ने पूछताछ में बड़े खुलासे किए हैं।

सांकेतिक तस्वीर
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

मध्यप्रदेश में 70 करोड़ की मिथाइलीनडाइआक्सी मेथेमफेटामाइन मामले में इंदौर पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों में एक महिला भी शामिल है, जो कि इस मामले की मास्टरमाइंड है। वहीं गिरफ्तार चारों आरोपियों ने पूछताछ में बड़े खुलासे किए हैं। महजबीन नाम की महिला आरोपी ने पुलिस को बताया कि वह सलीम के साथ लिव इन में रहकर उससे ड्रग्स सप्लाई करवाती थी।

पुलिस ने आरोपितों के मोबाइल जब्त कर उनका डेटा रिकवर किया है। पुलिस के अनुसार इसमें कई बड़े लोग भी फंस सकते हैं। आरोपितों से कई लग्जरी कारें भी बरामद की गई हैं। जब्त सभी 40 मोबाइलों को साइबर परीक्षण के लिए भेजा है। काल डिटेल भी खंगाली जा रही है। साथ ही उनके खातों की जांच सीए के माध्यम से आडिट कराई जा रही है।

कोविड पास बनवाकर महजबीन अपने साथियों के साथ करती थी ड्रग्स सप्लाई
महिला मुंबई में ड्रग्स पेडलर के रूम में लोगों को ड्रग्स सप्लाई करती थी। साथ ही आरोपी सलीम के साथ लिव इन में रहकर उससे भी ड्रग्स सप्लाई करवाती थी। आरोपी सलीम की मुंबई पुलिस में जान पहचान होने के कारण उसका कोविड पास आसानी से बन गया था। इसी कोविड पास की आड़ में महिला आरोपितों के साथ इंदौर आकर ड्रग्स का व्यापार करती थी।

होटल में रुकने के प्रमाण भी मिले
क्राइम ब्रांच को होटल में रुकने के प्रमाण भी मिले हैं। महजबीन भी ड्रग्स लेने की आदी है। महजबीन ने बताया कि उसका नाम सामने आने के बाद वह भागने के दौरान मोबाइल सिम व फोन तोड़कर फेंक दिए और व्हाट्सएप कॉल व इंटरनेशनल नंबर और एप के माध्यम से अन्य फरार आरोपियों से बात करती थी।

विस्तार

मध्यप्रदेश में 70 करोड़ की मिथाइलीनडाइआक्सी मेथेमफेटामाइन मामले में इंदौर पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों में एक महिला भी शामिल है, जो कि इस मामले की मास्टरमाइंड है। वहीं गिरफ्तार चारों आरोपियों ने पूछताछ में बड़े खुलासे किए हैं। महजबीन नाम की महिला आरोपी ने पुलिस को बताया कि वह सलीम के साथ लिव इन में रहकर उससे ड्रग्स सप्लाई करवाती थी।

पुलिस ने आरोपितों के मोबाइल जब्त कर उनका डेटा रिकवर किया है। पुलिस के अनुसार इसमें कई बड़े लोग भी फंस सकते हैं। आरोपितों से कई लग्जरी कारें भी बरामद की गई हैं। जब्त सभी 40 मोबाइलों को साइबर परीक्षण के लिए भेजा है। काल डिटेल भी खंगाली जा रही है। साथ ही उनके खातों की जांच सीए के माध्यम से आडिट कराई जा रही है।

कोविड पास बनवाकर महजबीन अपने साथियों के साथ करती थी ड्रग्स सप्लाई

महिला मुंबई में ड्रग्स पेडलर के रूम में लोगों को ड्रग्स सप्लाई करती थी। साथ ही आरोपी सलीम के साथ लिव इन में रहकर उससे भी ड्रग्स सप्लाई करवाती थी। आरोपी सलीम की मुंबई पुलिस में जान पहचान होने के कारण उसका कोविड पास आसानी से बन गया था। इसी कोविड पास की आड़ में महिला आरोपितों के साथ इंदौर आकर ड्रग्स का व्यापार करती थी।

होटल में रुकने के प्रमाण भी मिले

क्राइम ब्रांच को होटल में रुकने के प्रमाण भी मिले हैं। महजबीन भी ड्रग्स लेने की आदी है। महजबीन ने बताया कि उसका नाम सामने आने के बाद वह भागने के दौरान मोबाइल सिम व फोन तोड़कर फेंक दिए और व्हाट्सएप कॉल व इंटरनेशनल नंबर और एप के माध्यम से अन्य फरार आरोपियों से बात करती थी।

Source link

I am only use feed rss url of the following postowner. i am not writter,owner, of the following content or post all credit goes to Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top