Nation News

IMD Alert: तपती गर्मी से मिलेगी राहत, अगले 5 दिन उत्तर भारत में गरज के साथ बरसेंगे बादल

IMD Alert: तपती गर्मी से मिलेगी राहत, अगले 5 दिन उत्तर भारत में गरज के साथ बरसेंगे बादल

नई दिल्ली: उत्तर-पश्चिम भारत में करीब एक हफ्ते तक लू के प्रकोप के बाद शुक्रवार को तापमान में गिरावट देखी गई, लेकिन मानसून की स्थिति बेहतर नहीं होने से हाई ह्यूमिडिटी के कारण लोगों को उमस भरी गर्मी का सामना करना पड़ा.

इन राज्यों में बारिश का अलर्ट

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने कहा कि दिल्ली (Delhi), पश्चिमी उत्तर प्रदेश (UP), पंजाब (Punjab), हरियाणा (Haryana) और राजस्थान (Rajasthan) में अगले 24 घंटों के दौरान दक्षिण-पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल हैं. वहीं राजस्थान, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के कुछ इलाकों में शुक्रवार से ही हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश होना शुरू हो गई है.

दिल्ली में चलीं सबसे गर्म हवाएं

इस बीच, राष्ट्रीय राजधानी में उमस भरी गर्मी रहने के साथ ही अधिकतम तापमान 38.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. दिल्ली में जुलाई के महीने में अब तक लोगों को 4 दिन लू के प्रकोप का सामना करना पड़ा. इन चार दिनों में एक जुलाई को अधिकतम तापमान 43.1 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया, दो जुलाई को उच्चतम तापमान 41.3 डिग्री सेल्सियस रहा, 7 जुलाई को जब पारा 42.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया और 8 जुलाई को अधिकतम तापमान 41.8 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने के साथ ही राजधानी के लोगों को भीषण गर्मी से जूझना पड़ा.

ये भी पढ़ें:- शाह परिवार की सारी दिक्कतें छोड़ ‘अनुपमा’ हुई मस्त, शॉर्ट ड्रेस में खूब लहराए बाल

कहीं तपती गर्मी तो कहीं मिली राहत

हालांकि शुक्रवार को राष्ट्रीय राजधानी में रिलेटिव ह्यूमिडिटी 89 फीसदी से 49 फीसदी के बीच रही. पड़ोसी राज्य हरियाणा के गुरुग्राम (Gurgaon) में अधिकतम तापमान 39.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि उत्तर प्रदेश के नोएडा (Noida) में अधिकतम तापमान 38.2 डिग्री सेल्सियस रहा. वहीं पंजाब और हरियाणा में शुक्रवार को भी गर्मी का कहर जारी रहा, जबकि कुछ स्थानों पर बारिश हुई. हरियाणा के नारनौल में अधिकतम तापमान सामान्य से 4 डिग्री अधिक 41.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. 

UP में गरज के साथ पड़ी बौछारें

उत्तर प्रदेश में कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ीं, जबकि राज्य के कुछ अलग-अलग हिस्सों में लू की स्थिति रही. राज्य में सबसे अधिक अधिकतम तापमान आगरा में 42.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि वाराणसी, गोरखपुर, अयोध्या, प्रयागराज, कानपुर, लखनऊ, बरेली और झांसी संभाग में दिन के तापमान में गिरावट दर्ज की गई. इसी तरह उत्तराखंड के अलग-अलग स्थानों पर भी बारिश हुई क्योंकि मैदानी और पहाड़ियों दोनों में अधिकतम तापमान सामान्य से अधिक रहा. राजधानी देहरादून में अधिकतम तापमान 35.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

ये भी पढ़ें:- क्या इस बार हो सकेगी कांवड़ यात्रा? CM योगी ने अफसरों को दिए ये निर्देश

अगले 5 दिन भारी बारिश की संभावना

भले ही मानसून अब तक उत्तर-पश्चिम भारत से अलग-थलग रहा हो, लेकिन तमिलनाडु (Tamil Nadu) और दक्षिण भारत के अन्य हिस्सों इसकी स्थिति मजबूत बनी हुई है. केरल, लक्षद्वीप, तटीय कर्नाटक और पुडुचेरी के अधिकांश स्थानों के अलावा तेलंगाना तथा तटीय आंध्र प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में बारिश हुई. IMD के मुताबिक, अरब सागर से दक्षिण-पश्चिमी हवाओं के और मजबूत होने तथा 11 जुलाई के आस-पास बंगाल की खाड़ी के ऊपर लो प्रेशर एरिया की संभावना के कारण,जिससे अगले 5 दिनों में मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और ओडिशा में भारी बारिश वर्षा होने की संभावना है.

LIVE TV

Source link

I am only use feed rss url of the following postowner. i am not writter,owner, of the following content or post all credit goes to Source link

Related posts

Monsoon: IMD ने आधा दर्जन राज्‍यों में एक हफ्ते तक Heavy Rain होने की दी चेतावनी, Delhi-UP भी शामिल

admin

Centre can not combat us politically, the usage of ED in opposition to us: Mamata Banerjee | India Information – Instances of India

admin

UP: FIR Towards Information Portal, Its Two Newshounds Over Documentary on Mosque Demolition

admin

Leave a Comment

%d bloggers like this:
189728755