Wednesday, December 1, 2021
HomeMp Newsदिग्विजय बनाम रामेश्वर: कांग्रेसियों के घुटने तोड़ने का बयान देने वाले भाजपा...

दिग्विजय बनाम रामेश्वर: कांग्रेसियों के घुटने तोड़ने का बयान देने वाले भाजपा विधायक आए घुटने पर, दिग्विजय रामधुन करते हुए पहुंचेंगे उनके घर : Shivpurinews.in

- Advertisement -

सार

भोपाल में जबरदस्त सियासी ड्रामा चल रहा है। कांग्रेसियों के घुटने तोड़ने की धमकी देने वाले भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने अपने घर पर दिग्विजय सिंह के स्वागत का इंतजाम किया है। दिग्विजय भी मिंटो हॉल से रामधुन करते हुए उनके घर के लिए निकल गए हैं।    

दिग्विजय सिंह के आने से पहले ही रामेश्वर शर्मा ने अपने निवास पर शुरू की रामधुन।
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

भोपाल में हुजूर के भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का आमना-सामना होने वाला है। दिग्विजय सिंह मिंटो हॉल स्थित गांधी प्रतिमा से समर्थकों के साथ पैदल ही रामेश्वर शर्मा के मालवीय नगर स्थित घर तक जाने के लिए चल दिए हैं। वे रामधुन करते हुए आगे बढ़ रहे हैं। वहीं, रामेश्वर शर्मा अपने निवास पर साधु-संतों और समर्थकों के साथ रामधुन कर रहे हैं। अप्रिय स्थिति को टालने के लिए पुलिस ने रामेश्वर शर्मा के घर जाने वाले तीन रास्तों में बैरेकेटिंग कर दी है। 

यह मामला बड़ा दिलचस्प है। पिछले दिनों रामेश्वर शर्मा का एक वीडियो वायरल हुआ था। उसमें हुजूर विधानसभा के कटखेड़ा गांव में वह कह रहे थे कि यदि कोई कांग्रेस का आदमी आए तो उसके घुटने तोड़ दो। इसके जवाब में 20 नवंबर को दिग्विजय सिंह ने सोशल मीडिया पर कहा- “मैं कांग्रेसी हूं, जिसमें ताकत हो तो मेरे घुटने तोड़ दे। मैं गांधीवादी हूं। हिंसा का जवाब अहिंसा से दूंगा। 24 नवंबर को मैं महात्मा गांधी की मूर्ति से रामेश्वर शर्मा के घर जाउंगा। उनके घर जाकर प्रभु से उन्हें सद्बुद्धि देने के लिए एक घंटे तक रामधुन करूंगा।” 

दिग्विजय का घर पर स्वागत करने के लिए भाजपा विधायक ने अपने घर बड़ा-भारी मंडप लगवा लिया। हलवा-पूड़ी का निमंत्रण भी उन्हें दे दिया। दिग्विजय के स्वागत के लिए टेंट लगाया। इसमें बुधवार सुबह से ही रामधुन भी शुरू हो गई है। समर्थकों के लिए प्रसाद के तौर पर पूडी-सब्जी और हलवा भी बन रहा है। 

रामेश्वर शर्मा ने रामधुन करने के लिए अपने निवास युवा सदन को भगवा रंग से सजाया है। यहां झंडे, टेंट और स्वागत द्वार बनाया गया है। दिग्विजय सिंह के स्वागत के लिए तैयार द्वार पर रामधुन और जय श्री राम के नारे के साथ ही भगवान राम का चित्र है।  
 

हिंसा पर अहिंसा का जीत
दिग्विजय सिंह ने पैदल यात्रा से पहले दो ट्वीट किए। पहले तो लिखा यह हिंसा पर अहिंसा की जीत है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं के घुटने तोड़ने वाले भाजपा विधायक ने कांग्रेसियों के सामने घुटने टेके। कांग्रेस कार्यकर्ताओं को दिया हलवा-पूडी का निमंत्रण। 
इसके बाद उन्होंने लिखा कि हे भाजपाईयों, हे संघियों, हमारे साथ बैठकर रामधुन गाओ। रघुपति राघव राजा राम, पतित पावन सीताराम। ईश्वर अल्लाह तेरो नाम, सब को सन्मति दे भगवान। और भारतीय संविधान का पालन कर सभी धर्मों का सम्मान करो। 
 

अच्छा है ‘चचाजान’ अब रामधुन गाएंगे:  मिश्रा
दिग्विजय सिंह की रामधुन पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि अच्छा है, चचाजान अब रामधुन गाएंगे। गुरुवार को बुधवार, बुधवार को गुरुवार कह रहे थे। प्रसादी खाने को मना कर रहे थे। इफ्तारी खाने को कभी उन्होंने मना नहीं किया। उनकी यात्रा बहुत विचित्रताएं लिए रहती हैं। मेरे ख्याल से उन्हें प्रसाद खाना चाहिए। इस बात का ध्यान रखना चाहिए दिग्विजय सिंह जी को कि रामधुन गाने पर कहीं उनके खिलाफ सोनिया गांधी जी या राहुल गांधी जी फतवा जारी न कर दें।  

विस्तार

भोपाल में हुजूर के भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का आमना-सामना होने वाला है। दिग्विजय सिंह मिंटो हॉल स्थित गांधी प्रतिमा से समर्थकों के साथ पैदल ही रामेश्वर शर्मा के मालवीय नगर स्थित घर तक जाने के लिए चल दिए हैं। वे रामधुन करते हुए आगे बढ़ रहे हैं। वहीं, रामेश्वर शर्मा अपने निवास पर साधु-संतों और समर्थकों के साथ रामधुन कर रहे हैं। अप्रिय स्थिति को टालने के लिए पुलिस ने रामेश्वर शर्मा के घर जाने वाले तीन रास्तों में बैरेकेटिंग कर दी है। 

यह मामला बड़ा दिलचस्प है। पिछले दिनों रामेश्वर शर्मा का एक वीडियो वायरल हुआ था। उसमें हुजूर विधानसभा के कटखेड़ा गांव में वह कह रहे थे कि यदि कोई कांग्रेस का आदमी आए तो उसके घुटने तोड़ दो। इसके जवाब में 20 नवंबर को दिग्विजय सिंह ने सोशल मीडिया पर कहा- “मैं कांग्रेसी हूं, जिसमें ताकत हो तो मेरे घुटने तोड़ दे। मैं गांधीवादी हूं। हिंसा का जवाब अहिंसा से दूंगा। 24 नवंबर को मैं महात्मा गांधी की मूर्ति से रामेश्वर शर्मा के घर जाउंगा। उनके घर जाकर प्रभु से उन्हें सद्बुद्धि देने के लिए एक घंटे तक रामधुन करूंगा।” 

दिग्विजय का घर पर स्वागत करने के लिए भाजपा विधायक ने अपने घर बड़ा-भारी मंडप लगवा लिया। हलवा-पूड़ी का निमंत्रण भी उन्हें दे दिया। दिग्विजय के स्वागत के लिए टेंट लगाया। इसमें बुधवार सुबह से ही रामधुन भी शुरू हो गई है। समर्थकों के लिए प्रसाद के तौर पर पूडी-सब्जी और हलवा भी बन रहा है। 

रामेश्वर शर्मा ने रामधुन करने के लिए अपने निवास युवा सदन को भगवा रंग से सजाया है। यहां झंडे, टेंट और स्वागत द्वार बनाया गया है। दिग्विजय सिंह के स्वागत के लिए तैयार द्वार पर रामधुन और जय श्री राम के नारे के साथ ही भगवान राम का चित्र है।  

 

हिंसा पर अहिंसा का जीत

दिग्विजय सिंह ने पैदल यात्रा से पहले दो ट्वीट किए। पहले तो लिखा यह हिंसा पर अहिंसा की जीत है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं के घुटने तोड़ने वाले भाजपा विधायक ने कांग्रेसियों के सामने घुटने टेके। कांग्रेस कार्यकर्ताओं को दिया हलवा-पूडी का निमंत्रण। 

इसके बाद उन्होंने लिखा कि हे भाजपाईयों, हे संघियों, हमारे साथ बैठकर रामधुन गाओ। रघुपति राघव राजा राम, पतित पावन सीताराम। ईश्वर अल्लाह तेरो नाम, सब को सन्मति दे भगवान। और भारतीय संविधान का पालन कर सभी धर्मों का सम्मान करो। 

 

अच्छा है ‘चचाजान’ अब रामधुन गाएंगे:  मिश्रा

दिग्विजय सिंह की रामधुन पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि अच्छा है, चचाजान अब रामधुन गाएंगे। गुरुवार को बुधवार, बुधवार को गुरुवार कह रहे थे। प्रसादी खाने को मना कर रहे थे। इफ्तारी खाने को कभी उन्होंने मना नहीं किया। उनकी यात्रा बहुत विचित्रताएं लिए रहती हैं। मेरे ख्याल से उन्हें प्रसाद खाना चाहिए। इस बात का ध्यान रखना चाहिए दिग्विजय सिंह जी को कि रामधुन गाने पर कहीं उनके खिलाफ सोनिया गांधी जी या राहुल गांधी जी फतवा जारी न कर दें।  

Source link

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

%d bloggers like this: