Saturday, November 27, 2021
HomeMp Newsटंट्या मामा बलिदान दिवस:  एक लाख लोग शामिल होंगे समारोह में, दो...

टंट्या मामा बलिदान दिवस:  एक लाख लोग शामिल होंगे समारोह में, दो यात्राएं निकाली जाएंगी: मिश्रा  : Shivpurinews.in

- Advertisement -

{“_id”:”619f6b05d087fc1e4d7c3055″,”slug”:”tantya-mama-sacrifice-day-one-lakh-people-will-attend-the-ceremony-two-yatras-will-be-taken-out-mishra”,”type”:”story”,”status”:”publish”,”title_hn”:”टंट्या मामा बलिदान दिवस:  एक लाख लोग शामिल होंगे समारोह में, दो यात्राएं निकाली जाएंगी: मिश्रा “,”category”:{“title”:”City & states”,”title_hn”:”शहर और राज्य”,”slug”:”city-and-states”}}

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, इंदौर
Published by: रवींद्र भजनी
Updated Thu, 25 Nov 2021 04:22 PM IST

सार

गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने 3 एवं 4 दिसंबर को इंदौर में टंट्या मामा स्मृति कार्यक्रम के आयोजन की तैयारियों की समीक्षा ली। मध्य प्रदेश में जननायक टंट्या मामा का बलिदान दिवस बड़े पैमाने पर मनाया जाएगा। 
 

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा और इंदौर सांसद शंकर लालवानी बैठक के बाद पत्रकारों को बलिदान दिवस स्मृति कार्यक्रम की जानकारी देते हुए।
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री और इंदौर के प्रभारी मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने गुरुवार को 4 दिसंबर को पातालपानी में टंट्या मामा स्मृति कार्यक्रम की तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम में एक लाख लोग शामिल होंगे। दो कलश यात्राएं निकाली जाएंगी, जो अलग-अलग जिलों से होकर पहले धार, फिर इंदौर पहुंचेंगी। 

डॉ. मिश्रा ने यह भी कहा कि देश के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर करने वाले अमर शहीद क्रांतिकारी टंट्या मामा के अमूल्य बलिदान एवं देश भक्ति का भाव जन-जन तक पहुंचाने के लिए कलश यात्रा एवं टंट्या मामा स्मृति कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। हमारे प्रयास होने चाहिए कि ज्यादा से ज्यादा लोग इस आयोजन में अपनी सहभागिता निभाएं और जननायक टंट्या मामा के विचारों को अपने अंदर समाहित करें। बैठक में सांसद शंकर लालवानी, संभागायुक्त डॉ पवन कुमार शर्मा, आईजी हरिनारायण चारी मिश्रा, कलेक्टर मनीष सिंह, डीआईजी मनीष कपूरिया सहित अन्य जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।

शहर के प्रमुख चौराहों पर सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे
इंदौर के सांसद शंकर लालवानी ने बताया कि 1 दिसंबर से इंदौर के प्रमुख चौराहों पर सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। 3 दिसंबर को इंदौर पहुंच रही कलश यात्रा के मार्ग पर जगह-जगह स्वागत मंच रहेंगे। शहर के लोग टंट्या मामा को श्रद्धा सुमन अर्पित करेंगे। इसी तरह संभागायुक्त डॉ. शर्मा ने बताया कि टंट्या मामा बलिदान दिवस पर स्मृति कार्यक्रम में टंट्या मामा के वंशज भी शामिल होंगे। 

दो कलश यात्राएं निकलेंगी
जननायक टंट्या मामा की जन्म स्थली बड़ोद अहीर से 27 नवंबर को कलश यात्रा निकाली जाएगी। दूसरी कलश यात्रा सैलाना से 29 नवंबर को शुरू होगी। दोनों यात्राएं इंदौर और उज्जैन संभाग के विभिन्न जिलों से होते हुए धार में 3 दिसंबर को आकर मिलेगी। इसके बाद दोनों यात्राएं 4 दिसंबर को पातालपानी आएगी। यात्रा के दौरान लोगों के रूकने एवं भोजन की व्यवस्था के साथ-साथ डॉक्टर की टीम भी साथ में रहेगी।  

पातालपानी में स्थापित होगी टंट्या मामा की मूर्ति 
इंदौर कलेक्टर श्री मनीष सिंह ने कहा कि कलश यात्रा के लिए रथ इंदौर में बन रहे हैं। यह दोनों रथ रतलाम एवं खंडवा के लिए रवाना होंगे। उन्होंने बताया कि कार्यक्रम स्थल की 2 किलोमीटर की परिधि में पर्याप्त पार्किंग व्यवस्था की गई है। पातालपानी में जननायक टंट्या मामा की कांस्य की मूर्ति स्थापित होगी। 3 दिसंबर को रथयात्रा धार रोड से राजवाड़ा पहुंचेगी, जहां इसका स्वागत किया जाएगा। इसके बाद यह रथयात्रा स्टेडियम पहुंचेगी जहां पर सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित होंगे।  

विस्तार

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री और इंदौर के प्रभारी मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने गुरुवार को 4 दिसंबर को पातालपानी में टंट्या मामा स्मृति कार्यक्रम की तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम में एक लाख लोग शामिल होंगे। दो कलश यात्राएं निकाली जाएंगी, जो अलग-अलग जिलों से होकर पहले धार, फिर इंदौर पहुंचेंगी। 

डॉ. मिश्रा ने यह भी कहा कि देश के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर करने वाले अमर शहीद क्रांतिकारी टंट्या मामा के अमूल्य बलिदान एवं देश भक्ति का भाव जन-जन तक पहुंचाने के लिए कलश यात्रा एवं टंट्या मामा स्मृति कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। हमारे प्रयास होने चाहिए कि ज्यादा से ज्यादा लोग इस आयोजन में अपनी सहभागिता निभाएं और जननायक टंट्या मामा के विचारों को अपने अंदर समाहित करें। बैठक में सांसद शंकर लालवानी, संभागायुक्त डॉ पवन कुमार शर्मा, आईजी हरिनारायण चारी मिश्रा, कलेक्टर मनीष सिंह, डीआईजी मनीष कपूरिया सहित अन्य जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।

शहर के प्रमुख चौराहों पर सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे

इंदौर के सांसद शंकर लालवानी ने बताया कि 1 दिसंबर से इंदौर के प्रमुख चौराहों पर सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। 3 दिसंबर को इंदौर पहुंच रही कलश यात्रा के मार्ग पर जगह-जगह स्वागत मंच रहेंगे। शहर के लोग टंट्या मामा को श्रद्धा सुमन अर्पित करेंगे। इसी तरह संभागायुक्त डॉ. शर्मा ने बताया कि टंट्या मामा बलिदान दिवस पर स्मृति कार्यक्रम में टंट्या मामा के वंशज भी शामिल होंगे। 

दो कलश यात्राएं निकलेंगी

जननायक टंट्या मामा की जन्म स्थली बड़ोद अहीर से 27 नवंबर को कलश यात्रा निकाली जाएगी। दूसरी कलश यात्रा सैलाना से 29 नवंबर को शुरू होगी। दोनों यात्राएं इंदौर और उज्जैन संभाग के विभिन्न जिलों से होते हुए धार में 3 दिसंबर को आकर मिलेगी। इसके बाद दोनों यात्राएं 4 दिसंबर को पातालपानी आएगी। यात्रा के दौरान लोगों के रूकने एवं भोजन की व्यवस्था के साथ-साथ डॉक्टर की टीम भी साथ में रहेगी।  

पातालपानी में स्थापित होगी टंट्या मामा की मूर्ति 

इंदौर कलेक्टर श्री मनीष सिंह ने कहा कि कलश यात्रा के लिए रथ इंदौर में बन रहे हैं। यह दोनों रथ रतलाम एवं खंडवा के लिए रवाना होंगे। उन्होंने बताया कि कार्यक्रम स्थल की 2 किलोमीटर की परिधि में पर्याप्त पार्किंग व्यवस्था की गई है। पातालपानी में जननायक टंट्या मामा की कांस्य की मूर्ति स्थापित होगी। 3 दिसंबर को रथयात्रा धार रोड से राजवाड़ा पहुंचेगी, जहां इसका स्वागत किया जाएगा। इसके बाद यह रथयात्रा स्टेडियम पहुंचेगी जहां पर सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित होंगे।  

Source link

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular