Tuesday, December 7, 2021
HomeMp Newsनीति आयोग की रिपोर्ट पर MP में बढ़ी सियासत, कमलनाथ ने CM...

नीति आयोग की रिपोर्ट पर MP में बढ़ी सियासत, कमलनाथ ने CM शिवराज पर कसा तंज, बचाव में उतरे मंत्री : Shivpurinews.in

- Advertisement -

भोपाल. नीति आयोग (niti aayog Report) द्वारा जारी किए गए पहले राष्ट्रीय बहुआयामी गरीबी सूचकांक (MPI) में मध्य प्रदेश का नाम देश में चौथे सबसे गरीब राज्य के रूप में दिखाने के बाद प्रदेश का सियासी पारा चढ़ गया है. प्रदेश में बढ़ती गरीबी को लेकर कमलनाथ (Kamalnath) ने बीजेपी (Shivraj Singh Chouhan) सरकार पर निशाना साधा है. कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा है कि मैंने हमेशा से कहा है कि मुंह चलाने और सरकार चलाने में अंतर होता है. नीति आयोग द्वारा जारी किए गए पहले राष्ट्रीय बहुआयामी गरीबी सूचकांक एमपीआई में मध्य प्रदेश का नाम देश में चौथे सबसे गरीब राज्य के रूप में सामने आया है. मध्य प्रदेश में 36. 65 फ़ीसदी आबादी आज भी गरीब है.

कमलनाथ ने अपने ट्वीट में लिखा,’नीति आयोग के इस सूचकांक में भाजपा सरकार के 17 साल के स्वर्णिम मध्य प्रदेश समेत तमाम झूठे दावों और घोषणाओं की पोल खोल कर रख दी है. प्रदेश का नाम कई दशकों में देश के शीर्ष पांच गरीब राज्यों में शामिल है. वैसे भी मध्यप्रदेश का नाम कुपोषण, महिला अत्याचार, अपराध, किसानों की आत्महत्या, बेरोजगारी में भी अव्वल राज्यों में शामिल है और अब गरीबी में भी देश के  अव्वल राज्यों में शामिल हो गया है.

बीजेपी ने किया पलटवार

वहीं कमलनाथ के गरीबी को लेकर सरकार पर निशाना साधने पर प्रदेश के नगरी मंत्री भूपेंद्र सिंह ने जवाब दिया है. मंत्री भूपेंद्र सिंह ने सवाल पूछा है कि कांग्रेस ने प्रदेश की सत्ता में 15 महीने रहते हुए गरीबों के लिए क्या कदम उठाए, यह बताना चाहिए. मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि सरकार लगातार गरीबों के विकास के लिए काम कर रही है. स्ट्रीट वेंडर योजना के जरिए लोगों को स्वरोजगार से जोड़ा जा रहा है. सरकार प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से गरीबों के लिए रोजगार की योजनाएं चलाकर उनके विकास के लिए काम कर रही है.

ये भी पढ़ें: Rajasthan: रिश्वत लेते गिरफ्तार हुई लेडी इंस्पेक्टर को 15 दिन की जेल, 7000 रुपये में हुआ था सौदा
बहरहाल, नीति आयोग की रिपोर्ट ऐसे समय में जारी हुई है जब प्रदेश में हर एक मुद्दे को लेकर बीजेपी और कांग्रेस आमने-सामने है. अब नीति आयोग की ताजा रिपोर्ट में मध्य प्रदेश का नाम गरीब राज्यों में शामिल होने की रिपोर्ट से सियासी पारा और चढ़ गया है. नीति आयोग ने देश का पहला बहुआयामी गरीबी सूचकांक जारी किया है. इसमें बिहार देश का सबसे गरीब राज्य है. वहां 51.91% आबादी गरीब है. इसके बाद झारखंड (42.16%), उत्तर प्रदेश (37.79%) और मध्य प्रदेश (36.65%) का नंबर आता है.

आपके शहर से (भोपाल)

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश

Tags: CM Shivraj Singh Chouhan, Kamal nath, Mp political news, Niti Aayog

Source link

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

%d bloggers like this: